IRDAI ने दिया जनरल इंश्योरेंस कंपनियों को एक स्टैण्डर्ड हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी का प्रस्ताव!

standard health plan to be offered by General Insurance Companies

ग्राहकों को हमेशा यह सलाह दी जाती है कि वे बाजार में उपलब्ध सभी इंशोरेंस पॉलिसियों में तुलना करने के बाद ही हेल्थ पॉलिसी खरीदें। तुलना करना आवश्यक है, ग्राहकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि वे समान हेल्थ पॉलिसीज़ की तुलना करते है न कि अलग-अलग कवरेज लाभों वाली पॉलिसियों की। भारतीय बीमा बाजार में लगभग दो दर्ज़न हेल्थ इंशोरेंस कंपनियां हैं और प्रत्येक इंशोरेंस एडवाईजर कई स्वास्थ्य पॉलिसियों के ऑफर देते हैं।

 

जैसे, एक साधारण ग्राहक के लिए, तुलना करने के लिए लगभग सौ हेल्थ इंशोरेंस पॉलिसीज़ हैं। इतनी सारी पॉलिसियों के बीच तुलना करना मुश्किल हो जाता है। इसके अलावा, प्रत्येक योजना में कवरेज लाभ का एक अलग गणित होता है और इसलिए यह सुनिश्चित करना और एक निष्पक्ष तुलना कर पाना असंभव हो जाता है। हेल्थ इंशोरेंस ग्राहकों के सामने आने वाली इस समस्या को समझते हुए, भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (आईआरडीएआई) ने ‘ स्टैण्डर्ड हेल्थ इंशोरेंस प्रोडक्ट का कांसेप्ट (अवधारणा) का प्रस्ताव दिया है। आइए जानें कि आईआरडीएआई का क्या प्रस्ताव क्या है और इसके पीछे क्या तर्क है –

 

एक स्टैण्डर्ड हेल्थ इंशोरेंस प्रोडक्ट क्या है?

 

आईआरडीएआई के प्रस्ताव के अनुसार, स्टैण्डर्ड हेल्थ इंशोरेंस पॉलिसी’ एक स्वास्थ्य योजना होगी जिसमें ज़रूरी बुनियादी कवरेज के लाभ शामिल होंगे। पॉलिसी के फ़ायदे सभी हेल्थ इंशोरेंस एडवाईज़र्स के लिए भी समान होंगे। पॉलिसी के तहत कोई ऐड-ऑन या वैकल्पिक कवरेज (ऑप्शनल कवरेज बेनिफिट) का ऑफर नहीं दिया जाएगा क्योंकि यह एक बेसिक हेल्थ इंशोरेंस पॉलिसी होगी।

 

योजना की विशेषताएं

 

आईआरडीएआई के प्रस्ताव के अनुसार, पॉलिसी में निम्नलिखित विशेषताएं और लाभ होंगे –

 

  • पॉलिसी के अनुसार इंश्योर्ड राशि की सीमा रुपये 50,000 से रुपये 10 लाख तक होगी
  • बीमा कंपनियां स्टैण्डर्ड पॉलिसी के अलावा अन्य स्वास्थ्य पॉलिसियों की भी पेशकश कर सकती हैं
  • पॉलिसियों को सभी प्रकार के बीमा एजेंट, माइक्रो एजेंसी, सामान्य सेवा केंद्रों सहित सभी डिस्ट्रीब्यूशन चैनलों द्वारा बेचा जा सकता है।
  • 18 वर्ष से 65 वर्ष तक की आयु के व्यक्ति योजना के तहत लाइफलॉन्ग रिन्यूवल का आनंद ले सकते हैं

 

स्टैण्डर्ड पॉलिसी के तहत क्या-क्या कवर किया जाएगा?

 

स्टैण्डर्ड पॉलिसी निम्नलिखित बुनियादी स्वास्थ्य खर्चों के लिए कवरेज प्रदान करेगी –

 

अस्पताल में भर्ती होने के खर्च – इसमें 24 घंटे या उससे अधिक की अवधि के लिए इंश्योर्ड व्यक्ति को अस्पताल में भर्ती होने पर होने वाला खर्च शामिल होगा। निम्नलिखित खर्चों को इस पॉलिसी में कवर किया जाएगा –

 

  • अस्पताल के कमरे का किराया
  • नर्सिंग खर्च
  • डॉक्टर, सर्जन, एनेस्थेटिस्ट, विशेषज्ञ, डॉ आदि की फीस का खर्च।
  • आईसीयू  और आईसीसीयू  कमरे का किराया
  • एनेस्थीसिया, ब्लड, ऑक्सीजन, चिकित्सा, सर्जिकल उपकरणों आदि का खर्च।
  • मोतियाबिंद के उपचार में होने वाला खर्च
  • चोट लगने के कारण दंत चिकित्सा पर किया गया खर्च
  • चोट या बीमारी के कारण आवश्यक प्लास्टिक सर्जरी पर खर्च
  • घरेलू अस्पताल में भर्ती

 

अस्पताल में भर्ती होने से पहले के 30 दिनों तक के खर्चों को कवर किया जाएगा

 

अस्पताल में भर्ती होने के बाद के खर्च – अस्पताल से छुट्टी मिलने के 60 दिनों तक के खर्च को कवर किया जाएगा

 

आयुष उपचार – आयुर्वेद, यूनानी, सिद्धा या होम्योपैथी उपचार को कवर किया जाएगा

 

वेलफेयर इंसेंटिव – कल्याण और स्वस्थ जीवन को बढ़ावा देने के लिए, कल्याण प्रोत्साहन कवरेज वेलफेयर इंसेंटिव कोवरेज़ भी लाभों में भी शामिल हैं। इन प्रोत्साहनों में निम्नलिखित शामिल होंगे –

 

  • साल में एक बार नि: शुल्क स्वास्थ्य जांच और परामर्श
  • रोग प्रबंधन (डीजीस मैनेजमेंट) जो बीमाधारक को अस्पताल से छुट्टी देने के बाद पेशेवर डॉ सेवा प्रदान करेगा
  • फिटनेस एक्टिविटी का खर्च
  • आउट पेशेंट कांसल्टेशन और इलाज

 

प्रीमियम कितना होगा?

 

हालांकि आईआरडीएआई ने कवरेज को एक समान बनाने का प्रस्ताव दिया है, लेकिन पॉलिसी का मूल्य बीमा कंपनियों पर छोड़ दिया है। बीमा कंपनियां अपने क्लेम के अनुभव के आधार पर प्रीमियम तय कर सकती हैं। हालांकि, आईआरडीएआई ने बीमा कंपनियों को उन लोगों को प्रीमियम इंसेंटिव देने के लिए कहा है जो पॉलिसी खरीदते हैं। इसके अलावा, प्रीमियम को इस तरह से तय किया जाना चाहिए कि ग्राहक हर साल पॉलिसी को रिन्यू करने के लिए प्रेरित हों और क्लेम भी कम करें।

 

ये पॉलिसियों कैसे मदद करेंगी?

 

ग्राहकों के लिए लाभ

 

  • ग्राहक आसानी से विभिन्न बीमा कंपनियों की स्टैण्डर्ड पॉलिसी से तुलना करने में सक्षम होंगे और कवरेज के फायदों को याद किए बिना, चिंता किए बिना सबसे कम प्रीमियम वाली योजना का चयन करेंगे।
  • चूंकि हर पॉलिसी के साथ सभी बुनियादी कवरेज के लाभ प्रदान किए जाएंगे, इसलिए सस्ती पॉलिसी की तलाश करने वाले ग्राहक इस पॉलिसी को चुन सकेंगे।

 

बीमा कंपनी के लिए लाभ

 

  • वे अपनी बिक्री बढ़ा सकते हैं क्योंकि ग्राहक कम-ब्याज दरों पर एक स्टैण्डर्ड पॉलिसी खरीदने में अधिक रुचि लेंगे
  • प्रस्तावित प्रीमियम इंसेंटिव के कारण, कंपनियां अपनी पॉलिसियों को खरीदने के लिए ग्राहकों को लुभाने में सक्षम होंगी
  • चूँकि बीमा बेचने वालों के पास प्रीमियम का निर्धारण शेष है, वे पॉलिसी बेचने में किस प्रकार का नुकसान नहीं उठाएंगे

 

आपकी भूमिका क्या होगी?

 

पीओएसपी (प्वाइंट ऑफ सेल पर्सन) के रूप में, आपकी भूमिका इन मानक स्वास्थ्य पॉलिसियों की उपलब्धता के बारे में अपने ग्राहकों को शिक्षित करने की होगी। आप अपने ग्राहकों को सबसे कम प्रीमियम वसूलने वाली कंपनी से योजना की तुलना करने और खरीदने में मदद कर सकते हैं। आपके ग्राहक सस्ते प्रीमियम पर मूल कवरेज प्राप्त कर सकते हैं जो प्रक्रिया आपके ग्राहकों के बीच आपके स्वास्थ्य बीमा के व्यवसाय को बढ़ाने में करेगी। इसलिए, स्टैण्डर्ड हेल्थ पॉलिसियों की अवधारणा को समझें ताकि आप अपने ग्राहकों को पॉलिसियों के लॉन्च होने पर उन्हें खरीदने में मदद कर सकें।

Recent articles
follow us and stay updated
About Mintpro
Mintpro is the best insurance agent app if you are looking to start, grow or manage your insurance business. With MintPro, you can become a trusted insurance advisor to your customers and provide great service as well. You can provide quotes from multiple insurers for multiple products, issue policy instantly without lengthy paperwork, follow-up with leads and much more.
Become a partner Become a partner